नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91-90050 72913 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें ,

पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन लेवल कम होना कई समस्याओं को देता है जन्म, इन 6 वार्निंग साइन से पहचानें

1 min read

Symptoms of Low Testosterone Level in Men: शरीर में कई तरह के हार्मोंस होते हैं. उन्हीं में से एक हार्मोन है टेस्टोस्टेरोन. यह एक मेल सेक्स हार्मोन है, जो पुरुषों में सेक्सुअल हेल्थ को बनाए रखता है. उनमें सेक्स ड्राइव की इच्छा को बरकरार रखता है. टेस्टोस्टेरोन पुरुषों की प्रजनन क्षमता को भी मजबूत बनाए रखता है. इस हार्मोन का निर्माण मेल टेस्टिकल्स या अंडकोष में होता है. इसकी कमी से पिता बनने का सपना भी खो सकता है. पुरुषों में इस हार्मोन की कमी से ना सिर्फ उनकी यौन क्षमता प्रभावित होती है, बल्कि कई अन्य शारीरिक, मानसिक समस्याओं के होने की संभावना भी बढ़ जाती है. बढ़ती उम्र के साथ शरीर में इस हार्मोन की कमी होने लगती है.

टेस्टोस्टेरोन लेवल कम होने के संकेत और लक्षण

  • यदि किसी पुरुष के शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो जाए, तो वह सारा दिन थकान महसूस कर सकता है. शरीर में पावर, स्टैमिना की कमी महसूस होने लगती है. हालांकि, थकान के कई अन्य कारण भी होते हैं, इसलिए जब आपको फिजिकल रिलेशन बनाने में अरुचि हो, तो डॉक्टर से संपर्क करें.

इसे भी पढ़ें: पुरुषों में सेक्स हार्मोन की कमी कई समस्याओं की बन सकती है वजह

  • सेक्स के प्रति धीरे-धीरे इच्छा कम होने लगती है. कुछ पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन भी हो सकता है. यदि आप अपने पार्टनर से दूर रहने के बहाने बनाने लगे हैं, तो डॉक्टर से जरूर संपर्क करें.
  • कई बार मेल हार्मोन की कमी होने से किसी भी काम में ध्यान लगा पाने में समस्या होने लगती है. मेमोरी पावर कम हो सकती है. आप सारा दिन स्ट्रेस, डिप्रेशन में रहने लगते हैं. इसके लिए आप अपने ऊपर ध्यान दें. एक्सरसाइज, योग, मेडिटेशन और हेल्दी डाइट, प्रॉपर नींद लें.
  • वर्कआउट करते ही थकान, मांसपेशियों में दर्द महसूस हो सकता है. टेस्टोस्टेरोन मांसपेशियों का भी निर्माण करती हैं. जब शरीर में इसकी कमी हो जाती है, तो धीरे-धीरे मसल्स कमजोर हो सकती हैं.
  • टेस्टोस्टेरोन कम होने पर हड्डियों की समस्या, नींद न आना, शरीर के कई हिस्सों के बाल कम होना, बेचैनी महसूस करना, चिड़चिड़ापन, मूड स्विंग्स, वजन बढ़ने जैसी समस्याएं हो सकती हैं.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published.

| Newsphere by AF themes.