नमस्कार हमारे न्यूज पोर्टल - मे आपका स्वागत हैं ,यहाँ आपको हमेशा ताजा खबरों से रूबरू कराया जाएगा , खबर ओर विज्ञापन के लिए संपर्क करे +91-90050 72913 ,हमारे यूट्यूब चैनल को सबस्क्राइब करें, साथ मे हमारे फेसबुक को लाइक जरूर करें ,

Breaking News टीचर ने बच्चों को पीट पीटकर खिलाया छिपकली वाला भोजन, 200 बच्चे हुए बीमार, टीचर ने कहा, बैगन है चुपचाप खाओ, देखें पूरी खबर विस्तार से

1 min read

बिहार के जनपद भागलपुर में मिड डे मील का भोजन करने के बाद 200 बच्चे बीमार हो गए ।

बच्चों ने भोजन में छिपकली होने की शिकायत की तो टीचर ने उन्हें डांट कर कहा कि छिपकली नहीं बैगन है बच्चों ने छिपकली वाला भोजन खाने से मना कर दिया तो टीचर ने उन्हें पीट-पीटकर भोजन खिलाया।

पहला निवाला खाते ही बच्चों को दिखे छिपकली टीचर ने खिलाया जबरदस्ती भोजन

मामला भागलपुर के नवगछिया प्रखंड में मदत्तपुर गांव के मध्य विद्यालय का है, क्लॉस 6 की छात्रा शिवानी कुमारी ने बताया कि मिड डे मील का भोजन परोसा गया, आयुष नाम के एक लड़के की थाली में छिपकली मिली, वह बहुत जोर से चिल्लाया, कि सारे बच्चे खड़े हो गए, मामले की जानकारी टीचर चितरंजन के पास पहुंची, टीचर वहां पहुंचे और बोले छिपकली नहीं बैगन है, बच्चे फिर भी मना किए तो उन्हें पीट-पीटकर भोजन कराया गया।

खाना खाते ही बच्चों को उल्टियां होने लगी और 200 बच्चे बीमार हो गए

टीचर ने बच्चों को जबरदस्ती भोजन कराया जिसकी वजह से बच्चों को उल्टियां होने लगी और 200 के करीब बच्चे बीमार हो गए जानकारी मिलते ही परिजन धीरे-धीरे स्कूल पहुंचने लगे सभी बच्चों को नवगछिया अनुमंडल हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया डॉक्टरों ने बताया कि फिलहाल बच्चे खतरे से बाहर हैं

प्रिंसिपल ने कहा कि छिपकली नहीं बैगन का डंठल था

स्कूल के प्रिंसिपल ने कहा कि खाने में छिपकली नहीं थी, मेन्यू में चावल और आलू बैगन की सब्जी थी, भोजन में बच्चों को जो मिला है, वह छिपकली नहीं बल्कि बैगन का डंठल था, घटना की जानकारी मिलते ही सारे अधिकारियों में हड़कंप मच गया, और वह फौरन नवगछिया अस्पताल पहुंच गए। प्रखंड शिक्षा अधिकारी विजय कुमार झा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है, जांच के बाद उचित कार्रवाई होगी

प्रिंसिपल सस्पेंड, रसोईया बर्खास्त, और शिक्षकों के हुए तबादले

इस घटना के बाद परिजनों ने स्कूल के बाहर प्रदर्शन शुरू कर दिया। ग्रामीण तुरंत कार्रवाई की मांग करने लगे, और धरने पर बैठ गए। प्रखंड शिक्षा अधिकारी विजय कुमार झा ने रसोईया को बर्खास्त कर दिया, और प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया, और सभी टीचरों के तबादले दूसरे स्कूलों में किया जा रहा है।

 

 

Ravi Mishra
Author: Ravi Mishra

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

| Newsphere by AF themes.